हज़रत आयतुल्लाहिल उज़मा हाज शेख हुसैन नूरी हमदानी
  हज़रत आयतुल्लाहिल उज़मा हाज शेख हुसैन नूरी हमदानी

आयतुल्लाहिल उज़मा नूरी हमदानी का जन्म सन्1304 हिजरी शम्सी मे ईरान के हमदान नामक शहर मे हुआ था। उन्होने सात वर्ष की आयु मे अपने पिता के सम्मुख अदबियाते फ़ारसी, किताबे गुलिस्तान,इंशा, हिसाब व अत्यादि पढ़ना शुरू किया। तथा किताबे लूमा तक उनसे ज्ञान लाभ प्राप्त करके सन् 1322 हिजरी शम्सी मे होज़े इल्मिया क़ुम मे आये। यहाँ आकर उन्होने आयतुल्लाह सैय्यिद मुहम्मद बाक़िर सुलतानी तबातबाई,आयतुल्लाह दामाद,आयतुल्लाह शेख मुहम्मद मुजाहेदी,आयतुल्लाह मिर्ज़ा महदी तबरेज़ी, आयतुल्लाहिल उज़मा बरूजर्दी, आयतुल्लाह रफ़ीई क़ज़वीनी,आयतुल्लाहहाज मीर सैय्यिद अली यसरबी व हज़रत इमाम खुमैनी रिज़वानुल्लाह तआला अलैह के दर्सों मे शिरकत करके अपने ज्ञान मे वृद्धि की।

ईरान के इस्लामी इंक़ेलाब की सफ़लता के बाद वह इमाम खुमैनी की ओर से उनके दूत के रूप मे यूरोपीय देशो मे नियुक्त हुए। तथा वर्तमान समय मे होज़े इल्मिया क़ुम मे फ़िक़्ह व उसूल का दर्से खारिज कहने मे व्यस्त हैं।
आयतुल्लाहिल उज़मा नूरी हमदानी की रचनाऐं

आयतुल्लाहिल उज़मा नूरी हमदानी ने बहुत सी किताबें लिखी हैं यहाँ पर केवल उनकी कुछ मुख्य किताबों के ही नाम दिये दजा रहे हैं।

1-अम्र बिल मारूफ़ व नही अज़ मुनकर

2-रिसालाए तौज़ीहुल मसाइल

3-हज़ारो यक मसअले फ़िक़्ही

4-मुंतःखःबुल मसाइल

5-मनासिके हज

6-आमादगीये रज़मी व मर्ज़दारी दर इस्लाम

7-दास्ताने बास्तान

8-दानिशे अस्रे फ़ज़ा

9-इंसान व जहान इत्यादि